कामवाली की झांट बना के चोदा – Shaved and fucked my desi maid

Amazing story of how I Shaved and fucked my desi maid. Servant Maid sex stories


हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम विनय हैं और मैं बंगाल ससे हूँ. मैं अभी २१ साल का हूँ और बी ए थर्ड इयर में स्टडी कर रहा हूँ. मेरी हाईट ५ फिट ४ इंच है और मेरा लोडा ६ इंच का हैं. मैं दिखने में ठीक ठीक हूँ हु और वैसे गोरा हु रंग में.

अब में आता हु मेरी लाइफ के सेक्स अनुभव पर जो मैं आप लोगो के साथ शेयर करना चाहता हूँ. ये उन दिनों की बात हैं जब मैं १२वी कक्षा में था. तब हमारे घर में एक कामवाली काम करती थी जिसका नाम अनीता था. (वैसे मैंने ये नाम बदला हुआ हे.)

वो दिखने में ज्यादा अच्छी नहीं थी, काली थी और उसका नाम भी नोर्मल से थोडा लॉन्ग था. और नक्षे में वो एवरेज थी. मैं उन दिनों में टीवी के ऊपर गंदे सिन और मुविस देखता था. और जब रोमांटिक गाना देखता था तो बोलीवुड की हिरोइन्स को देख के ही लंड खड़ा हो जाता था मेरा. अनीता जब कमरे में काम करती थी तो मैं उसकी बड़ी गांड को देख के आहें भरता था. मन तो करता था के पीछे से पकड़ के साड़ी उठा के अंदर अपना केला डाल के चोद डालूं!

एक दिन मन टीवी देख रहा था और वो काम कर रही थी मेरे घर पे. उस वक्त टीवी में कुछ हॉट सिन चल रहा था तब मेरा ६ इंच लम्बा लंड खड़ा हो गया और मुझे ये बात पता ही नहीं चली. और अनीता आंटी घर में झाड़ू लगा रही थी और वो मेरे पास आ गई वो भी मुझे पता ही नहीं चला. उसने मेरे लंड को देखा और बोली, अरे बाबा ये क्या कर रहे हो? मैंने फट से अपना हाथ पेंट के ऊपर से ले लिया और चौंक पड़ा! मैं शर्मा गया और डर के मारे उसको कहा, कुछ नहीं ,कुछ भी नहीं! और मैं वहाँ से चला गया.

फिर थोड़ी देर में जब मैं किचन की तरफ जा रहा था तब वो सामने आ गई. और मुझे लगा की वो जानबूझ के मेरे बदन से टकरा गई. उसके चुंचे मेरी चेस्ट से लड़ गए और प्रेस हो गए. वो मेरे सामने देख के स्माइल दे के चली गई. और वो अपने काम में लग गई. अब वो साली चांस लेने लगी थी. जब वो मेरे कमरे में काम करती थी अक्सर अपना गिरा हुआ पल्लू ऊपर नहीं लेती थी. मेरी नजर उसके चुन्चो पर पड़ती थी तो लंड में बवाल मच जाता था. मैं अब अनीता आंटी के नाम की मुठ मारने लगा था. साला वो खुल्ला चांस दे रही थी लेकिन मैं अब तक डरा हुआ था जैसे. मुठ मारते वक्त तो मैं उसे हरेक एंगल और पोस में लेता था, लेकिन सिर्फ ख्यालों में!

फिर मैंने सोचा की अब तो इस कामवाली की बुर लेनी ही पड़ेगी वरना सब स्पर्म गटर में चले जायेंगे. एक दिन मैंने उसके आने से पहले जानबूझ के हॉट सिन लगा लिया अपने लेपटोप पर और देखने लगा. मैंने लंड पर भी हाथ घिस के उसे कडक कर लिया. वो आई तो उसने मेरे लंड की तरफ देखा और मैंने उसे देखा!

वो चुपचाप थी. मैं उसके सामने बैठा था और मैंने उसे कहा, मेरा लंड ऐसे सिन देख के खड़ा हो जाता हैं ये क्यूँ होता हैं आप को पता हैं?

ये सुनकर उसने स्माइल दी और बोली, मैं तुमको ये नहीं बता पाउंगी! और वो वहाँ से चली गई.

कुछ दिन बीत गए, ऐसे ही चलता रहा.

एक दिन मैं अपने ट्यूशन से घर आया. मम्मी मौसी के साथ मार्केट गई थी और अनीता को घर का काम सौंप के गई हुई थी. आज चांस बड़ा मस्त था इस कामवाली आंटी को पेलने का!

मैं फ्रेश हो के टीवी ओन कर के बैठ गया और वो आके बोली, आप कुछ खाओगे? मैंने कहा, रोटी खाने का मन हो रहा हैं. वो बोली, रुको मैं अभी बना के लाती हूँ. और फिर वो बोली, तुम मुझे क्या मदद कर दोगे थोड़ी? मुझे सुबह से हाथ में दर्द हो रहा हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Desibahu © 2018